What is Insurance in Hindi।Types of Insurance in India? ⋆ Newsboy What is Insurance in Hindi।Types of Insurance in India? ⋆ Newsboy

What is Insurance in Hindi।Types of Insurance in India?

Insurance क्या होता है । what is Insaurance In Hindi  ?

What is Insurance In Hindi:Insurance का मतलब होता है की, भविष्य अपनी सम्पति या अपनी जिंदगी में होने वाले नुकसान के खतरे को कम करना।यानी अपने जीवन मे या किसी व्यपार या सम्पति मैं भविष्य में होने वाले नुकसान की भरपाई करने का एक तरीका insurance है। इस से आप अपनी property, ओर life होने वाले रिस्क को कम कर सकते हैं ओर नुकसान होने पर भरपाई भी कर सकते हैं।बीमा(Insurance) एक कानूनी समझौता (legal agreement) है, जो कि दो parties के बीच होता है, बीमा कंपनी ओर वो व्यक्ति जो बीमा करवा रहा हो।बीमा(Insurance) के समझौतों या insurance को इस तरह से समझा जा सकता है कि अगर कोई व्यक्ति अपना या अपने सम्पति का  insurance करवाता है, तो उस व्यक्ति को या उसके संपति को भविष्य में कोई भी नुकसान होने उस नुकसान की भरपाई insurance कंपनी करती है।

बीमा(Insurance) क्यों करवाना चाहिए?

बीमा जिसे अंग्रेजी मैं insurance कहते है, इससे जुड़ने से या कहे कि बीमा करवाने से आप अपने और अपने परिवार या जीवन में भविष्य में होने वाले खतरों को कम कर सकते, मतलब उन खतरों के लिए पहले से ही अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं, बता दु की सुरक्षा से मेरा मतलब financial सुरक्षा से है।

बीमा (Insurance) किस तरीके से काम करता है?

बीमा(Insurance) को समझने के लिए आपको insurance के समझौते को समझना होगा।तो में insurance के समझौते मैं insurance करवाने वाले व्यक्ति को insurance company को एक निश्चित(fix) राशि देनी पड़ती है, ओर उसके बाद अगर बीमा करवाने वाले व्यक्ति के जीवन को या बीमा करवाई गई सम्पति को कोई नुकसान पहुंचता है तो insurance समझौते ओर बीमा नीति के मुताबिक, उस नुकसान की भारपाई insurance कंपनी करती हैं।इसे इस तरह समझिये की अगर कोई घर या कोई property को नुकसान हुआ ओर वो टूट फुट गया, ओर उस घर या property का insurance करवाया हुआ है तो उस property को हुए नुकसान की भरपाई का मुहाफजा insurance कंपनी को देना पड़ता है।भारत में कितने प्रकार के बीमा होते हैं।

(How many types of insurance in India.?) तो insurance के बारे मे इतनी बाटे जानने के बाद अब बात करते है कि insurance कितने प्रकार के होते है। तोभारत में मुख्य रूप से कुल दो तरीके के insurance एक life insurance ओर दूसरा General insurance

1.जीवन बीमा(Life insurance In India)

Life Insurance in India:तो बात करते है life insurance की, तो life insurance इंसान की जिंदगी का insurance करता है। मतलब अगर कोई इंसान अपना बीमा करवाता है, ओर उस इंसान की अकारणवश मोत हो जाती है, तो insurance कंपनी उस इंसान के परिवार को मुहाफजे के रूप में पैसे देती है।  life insurance की जरूरत तब पड़ती है जब घर के मुख्य सदस्य की मौत हो जाती है  यानी उस इंसान की मोत जिसकी कमाई से घर चलता हो तो उस इंसान की मौत से घर की आर्थिक स्तिथि बहोत खराब हो जाती हैं  और उस स्थिति में life insurance एक बहोत बड़ी मदत साबित होती है। तो ये ही है life insurance

जीवन बीमा के प्रकार (Types of life insurance in India)

यह है कुछ Types of Life Insurance in India

  1. सावधि बीमा (Term insurance)
  2. संपूर्ण जीवन बीमा (Whole life insurance)
  3. मनी बैक योजना (Money back plan)
  4. बंदोबस्ती योजना बीमा (Endowment plan insurance)
  5. वार्षिकी/पेंशन योजना (Annuities/pension plan)

2.सामान्य बीमा(General insurance)

अब बात करते है insurance के दूसरे प्रकार की यानी general insurance की,तो इस insurance मैं कई तरह की चीजों के insurance आते है।

● घर का insurance

● व्यापार देयता बीमा (Business  insurance)

● वाहन(vehicle) का insurance

● फसल का बीमा (crop insurance) स्वास्थ्य बीमा (Health insurance)

घर के insurence की बात करे तो अगर कोई इंसान अपने घर का insurence करवाता है ओर अगर भविष्य मे उसके घर किसी भी दुघटना जैसेकि भूकम्प, भाड़, या घर में आग लगने के कारण उसके घर को  नुकसान होता है तो उस नुकसान की भरपाई यानी मुहाफजा insurance company देती है।

व्यापार देयता बीमा (Business  Insurance)

Business insurence in India की बात करे तो, इस insurance को business liability insurance भी कहते हैं। इस insurence होता ये है कि अगर अपने अपने business का insurance करवाया है, ओर आपके द्वारा बेचे गये products से किसी customerकोई नुकसान हुआ है या आपकी company पर कोई कैस हुआ है तो उसका सारा खर्च insurance company उठायेगी चाहे वो किसी ग्राहक को मुहफजे के तौर पर दिए हुए पैसे हो या केस मैं लगने वाले पैसे हो सारे खर्च insurence कंपनी ही देगी।

Vehicles Insurance 

Vehicle Inaurance In India:ओर इसी के साथ अब बात करे आगे गाड़ी के insurence जिसेVehicle  insurance in India भी कहते है, तो इसमे आप अपनी गाड़ी, car, bike, truck आदि का insurance करवा सकते हैं। भारत में vehicle  insurgence करवाना अनिवार्य है ओर अगर आपने ऐसा नही किया तो आपको सरकार की ओर से जुर्माना लगाया जाएगा। इस insurence मैं आपके वाहन को होने वाले नुकसान की कीमत insurence company देती है।ओर इस Vehicle Inaurance के मुताबिक अगर आपके गाड़ी से किसी का accident हो जाये ओर वो इंसान घायल हो जाये या मार जाए तो उसकी भरपाई भी insurance कंपनी ही करेगी।

फसल का बीमा(Crop Insurance) 

Crop Insaurance In India:अब आपको बताते हैं Crop Insaurance in India के बारे मे, तो इस insurence को कृषि बीमा कहते हैं इस insurence मैं अगर किसी किसान अपनी फसल का बीमा करवाया है ओर उसकी फसल को कोई भी नुकसान होता है या फसल खराब हो जाती हैं, तो उस नुकसान का मुहाफजा insurence company देती है।ये insurence उन किसानों को जरूर करवाना चाहिए जो कि फसल के लिए खेती के लिए bank से loan लेते है।

Health Insurence

ओर अब बात करते है Health insurence In India की, तो इस insurence मैं अगर आप अपना insurence करवाते हैं तो आपको भविष्य आपको होने वाली बीमारी या तकलीफ का खर्चा insurence company उठाएगी ओर इस खर्च के पैसे आपके लिए गए  insurance policy के ऊपर निर्भर करता है। ओर इस insurence policy का फायदा उन्ही अस्पतालो मैं मिलेगा जिस से आपकी insurence policy जुड़ी हुई होगी। आज का बीमारिया बहोत बढ़ गई है और लोग बहोत लापरवाह हो गए है, ओर इसी लिए अपने परिवार के भविष्य के लिए health insurance तो ले ही लेना चाहिए। आज कल बहोत सारि अछि Insurance Policies Market मैं आ गयी है जिनमे आप अपने पूरे परिवार का Health insurance In India  करवा सकते हैं।

Frequently Asked Questions 

1.बीमा क्या होता है?

Ans: Insurance का मतलब होता है की, भविष्य अपनी सम्पति या अपनी जिंदगी में होने वाले नुकसान के खतरे को कम करना।यानी अपने जीवन मे या किसी व्यपार या सम्पति मैं भविष्य में होने वाले नुकसान की भरपाई करने का एक तरीका insurance है

2.बीमा क्यों करवाना चाहिए?

Ans: बीमा (Insaurance) करवाने से आप अपने और अपने परिवार या जीवन में भविष्य में होने वाले खतरों को कम कर सकते

3.बीमा कितना प्रसार का होता है ?

Ans: बीमा 7 प्रसार का होता है जो की कुछ है प्रकर है:Life Insurance, Motor insurance, Health insurance, Travel insurance, Property insurance. Mobile insurance, Cycle insurance, Bite-size insurance

READ MORE POST 

STAY HOME STAY SAFE